आंखों को स्वस्थ रखने और आंखों को मजबूत बनाने के लिए बेस्ट आई एक्सरसाइज और डाइट टिप्स

आंख हमारे शरीर की पांच इंद्रियों में से एक इंद्रियां हैं जो कि हमारे शरीर को बैलेंस करने का काम करती है हम आंख के सहारे दुनिया को देखते हैं इसे अनुभव करते हैं और हम अच्छे और खराब का विभेद कर पाने में सक्षम होते हैं इसीलिए किसी भी मानव के शरीर में उसके आंख का स्वास्थ्य होना बहुत जरूरी होता है अगर कोई व्यक्ति सही तरीके से देख पाता है तो वह दुनिया का सही आनंद ले पाता है वह व्यक्ति जो दुनिया को नहीं देख पाते या उनका आंख सही तरीके से काम नहीं कर पाता उन्हें अपने जीवन का सही आनंद नहीं मिलता था इसीलिए आप सभी लोगों को हम अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आंख को स्वस्थ रखने के लिए कुछ फिजिकल एक्सरसाइज और योगा बस लाने जा रहे हैं ताकि आप अपने आप को स्वस्थ रख सके आपको याद होना चाहिए कि आंख को स्वस्थ रखने के लिए फिजिकल एक्सरसाइज के साथ-साथ बैलेंस डाइट और न्यूट्रिशस फूड का लेना भी बहुत जरूरी होता है ताकि आपके आंख को जिस भी विटामिन मिनरल्स की जरूरत हो वह उसे पूरा कर सके हमारी आंख तब स्वस्थ रहेगी जब हम आंख में जो रिलेटेड विटामिन की जरूरत है वह अपने शरीर में भोजन के सहारे उपयोग करेंगे जैसे आंख को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन ए की जरूरत होती है इसीलिए हमें उन फूड को भी उपयोग में लाना चाहिए जिसमें विटामिन ए मौजूद हो



बहुत सारे व्यक्ति यह मानते हैं कि एक्सरसाइज से हमारे शरीर के अंग सही तरीके से काम करते हैं उसी तरीके से आंख की एक्सरसाइज भी आंख को इंप्रूव करने में भी जन को मजबूत करने में आंख की बीमारियों को सही करने में मदद करती है हम यह सब जानते हैं हमें सजेस्ट किया जाता है कि हमें आंख की एक्सरसाइज प्रतिदिन जरूर करनी चाहिए ताकि हमारे आंख का भी जन मजबूत हो सके हम आंख के एक्सरसाइज करने से हमारी आई स्ट्रेन सर्टन आई कंडीशन और इसके साथ हमारे आंखों के छोटी मोटी कमजोरियां भी सही हो जाती है एक्सरसाइज पार्टिकुलरली हेल्पफुल होता है उन व्यक्तियों के लिए भी जो डिजिटल काम करते हैं क्योंकि डिजिटल उपयोग करने से आई स्ट्रेन होने लगता है इससे आपको चाहिए आंख का सही तरीके से एक्सरसाइज करना ताकि आपकी आंख लंबे समय तक चल सके तो चलिए हम देखते हैं कि हमारी आंख की एक्सरसाइज हमें किन किन जगहों पर मदद करती है

निम्नलिखित स्थितियों के लिए नेत्र व्यायाम मददगार हो सकता है

nystagmus, जो एक आंख आंदोलन की स्थिति है
स्ट्रैबिस्मस, जो एक आंख आंदोलन की स्थिति भी है
मंददृष्टि
निकट दृष्टि दोष
दृश्य क्षेत्र दोष
डिस्लेक्सिया
समस्याओं का सत्यापन
नेत्र संबंधी गतिशीलता की स्थिति
निस्संक्रामक रोग
नेत्रावसाद
अभिसरण अपर्याप्तता
मस्तिष्क की चोट के बाद दृश्य क्षेत्र की कमी होती है
मोशन सिकनेस
सीखने की कठिनाइयाँ

जो भी व्यक्ति लंबे समय तक अपने आंख को उपयोग में लाना चाहते हैं उन्हें इन 7 बातों का बहुत अच्छे तरीके से ध्यान रखना चाहिए ताकि उनका आंख सही कंडीशन में रह सके और लंबे समय तक स्वस्थ रह सके.

1.20-20-20 का नियम:

आज के इस डिजिटल दुनिया में आंख का स्ट्रेन होना बहुत आम बात हो गया है जब हम डिजिटल अपने आंख को लंबे समय तक उपयोग करते हैं लंबे समय तक कंप्यूटर पर काम करते हैं तो इससे आंख में जलन होने लगता है और यह एक प्रॉब्लम बन जाता है जिससे कि हमारा फोकस जो है आंख का वह कर बढ़ाने लगता है कंप्यूटर स्क्रीन पर पूरा दिन काम करना बहुत खतरनाक है आंख के लिए इसीलिए हम सभी को फुल मदद करता है आंख को मजबूत करने में और आंख के इस ट्रेन को कम करने में यह 20 रोल पर्सन के लिए जरूरी है कि वह 20 फीट की दूरी पर काम करें 20 सेकंड में एवरी 20 मिनट वर्किंग कंप्यूटर इसका मतलब है कि अगर कोई व्यक्ति काम करता है तो कंप्यूटर से 20 सेकंड की जाए प्ले और 20 फीट की दूरी बनाए रखें कंप्यूटर स्क्रीन से कम से कम 20 फीट का दूरी होना बहुत जरूरी है आप जब भी कंप्यूटर को यूज करें तब आप अपने आंख को बंद करके 20 सेकंड तक रखें ताकि आंख आराम महसूस कर सके चलिए मैं दोहराता हूं आप कंप्यूटर से 20 फीट की दूरी बनाए रखेंगे आप 20 मिनट में अपने आंख को 20 सेकंड के लिए स्थिर करेंगे ताकि आंख बंद हो सके और आराम महसूस कर सके |


2.फोकस बदलें:

प्रोकस चेंज करने के लिए और फोकस चेंज की एक्सरसाइज आंखों के लिए बहुत जरूरी है यह मदद करता है डिजिटल आई स्ट्रेन को कम करने में व्यक्तियों को अपनी आंखों के परफॉर्मेंस को बढ़ाने के लिए कष्ट चेंज एक्सरसाइज को जरूर करनी चाहिए इससे व्यक्तियों के आंखें मजबूत होगी तो चलिए हम देखते हैं किस प्रकार से करनी है सबसे पहले एक उंगली को होल्ड करना है कुछ इंच की दूरी पर अपने आंखों के थोड़ा दूर फिर अब प्रकाश करना है फोन करके अपनी आंखों को अपनी उंगलियों को घुमाना है स्लोली प्रेस के चारों साइड फोकस करना है ऑब्जेक्ट को दूर तक एंड देन बैक टू फिंगर अपनी उंगलियों को पास लाना फिर अपनी उंगलियों को दूर ले जाना अपने उंगलियों को चारों साइड घुमाना अपनों को पीछे ले जाना आंख के साइड ले जाना और लेजाना इसे तीन बार बार रिपीट करना और एक्सरसाइज आंखों के लिए बहुत उपयोगी है


3.आँख की हरकत:

आंखों को मूवमेंट करना और आंखों को चारों साइड घुमाना आपका एक बेहतर और उत्तम एक्सरसाइज है आपको अपने आंखों के एक्सरसाइज के लिए ताकि आपका डिजिटल आई स्ट्रेन कम हो सके उस में मदद मिल सके आपको अपनी आंखों को क्लोज करना है बंद करना है स्लोली अपनी आंखों को मुंह करना है ऊपर से नीचे इसी तरीके से आपको यह रिपीट करना है फिर स्लोली अपनी आंखों को मुंह करना है लेफ्ट फिर राइट


4.आंकड़ा 8:

आपको अपनी आंखों को 8 डिजिट के तरह घुमाना है आपको यहां पर ध्यान देना है कि आपको अपनी आंखों को डिजिटल आई स्टैंड से बचाने के लिए आपको अपनी आंखों को सबसे पहले लेफ्ट सेंटर राइट और फिर थे राइट एंड लेफ्ट इस तरीके से घुमाना है ताकि आपका आंख सही तरीके से रोटेट कर सके और आपको अपनी फोकस एरिया को फ्लोर के चारों साइड घुमाना है अपनी आंखों को मुंह करना है और आपको इमेज नरी फिकर 8थ सेकंड विच डायरेक्शन तब फिर आपको डायरेक्शन को घुमाना है आप आंखों को सबसे पहले लैब्सेंटर राइट के डायरेक्शन में घुमाएंगे फिर आप राइट सेंटर लेफ्ट की डायरेक्शन में घुमाएंगे


5.पेंसिल पुशअप:

पेंसिल पोशाक हेल्प करता है व्यक्तियों को कन्वर्जेंस इन इन्फैंसी के केस में डॉक्टर को आप जब जाते हैं तब डॉक्टर आपको सलाह देते हैं रिकमेंड करते हैं यह एक्सरसाइज यह एक प्रकार का विजन थेरेपी है इसमें आपको पेंसिल को पकड़ कर रखना है अपने हाथों से और सिचुएट करना है आंखों के बीच लुक द पेंसिल एंड प्राय टो आपको किस करना है सिंगल इमेज ऑफ ईट व्हाईल सेलिंग मूविंग अट व्हाट एज आपको अपनी आंखों को सेंटर के पास लाना है टीपू को फिर आपको धीरे-धीरे ना कि और लाना है अपनी पेंसिल को ऑफ करना है नाक के तरफ एंड सिंगल इमेज की ओर ध्यान देना है पोजीशन जो है पेंसिल की क्लोज होना चाहिए और सिंगल इमेज होना चाहिए आप लगभग 20 बार रिपीट करें


6.ब्रॉक स्ट्रिंग:

ब्लॉक के स्ट्रिंग आई एक्सरसाइज आंखों के कोऑर्डिनेशन में बहुत मदद करता है यह एक्सरसाइज कंप्लीट एक्सरसाइज है जो कि आंखों को कोआर्डिनेशन करने में बहुत मददगार साबित होता है अगर आप इस एक्सरसाइज को कंप्लीट करना चाहते हैं तो पर्सन को चाहिए कि लंबी स्ट्रिंग लेना और कुछ कलरफुल बिट्स लेना और इसके बाद आपको यह एक्सरसाइज को कंप्लीट करना है आप इसे खड़ा होकर या बैठकर किसी भी प्रकार से कर सकते हैं आपको सिक्योर करना है अपनी एक एंड को और फिर आपको मौसम ले सब्जेक्ट को अदर परसन के द्वारा पकड़वा लेना है आपको ऑब्जेक्ट को होल्ड करना है दूसरे इंडी पर और फिर नाक के नीचे इसे पकड़ कर रखना है आपको एक भीड़ को पकड़ना है और फिर देखना है बोथाई से उसको अगर आपकी आई वर्क सही करेगी पर्सन जो है सीकर पाएगा बिट्स को सेमसेम में इसको देख पाएगा और अगर एक आई क्लोज कर दिया जाए


7.बैरल कार्ड

बैरल कार्ड्स की मदद से आंखों की एक्सरसाइज करना एक अच्छा एक्सरसाइज के केस में भी बहुत मदद करता है अगर आप चाहते हैं बैरल कार्ड की मदद से आंखों को एक्सरसाइज करना तब आपको बैरल इंक्रीजिंग साइज में कर लेने हैं एक कार्ड में रिपीट करना है ग्रीन के साथ भी और फिर कोई अलग-अलग कलर भी फिर आपको होल्ड करना है कार्ड को नाक के पास फिर लाज बैरल आपकी आंखों से दूर होनी चाहिए शेयर करना है बैरल्स को इमेज के साथ सभी अलग-अलग कलर में फिर मेंटेन करना है इस एक्सरसाइज को रिपीट करना है पास में मिडिल में फिर दूर में

स्वस्थ आंखों के लिए सर्वश्रेष्ठ आहार और पोषण

हमारी आंख को स्वस्थ बनाने के लिए यह सुझाव दिया जाता है कि एंटीऑक्सिडेंट और अन्य महत्वपूर्ण पोषण ने हमारे विचारों को कम कर दिया है, इसलिए हमें एंटीऑक्सिडेंट के बारे में विशिष्ट होना चाहिए जिनके अतिरिक्त लाभ भी हैं, उदाहरण के लिए अंधापन के खिलाफ विटामिन ए उत्पाद और विटामिन वह रोकने या कम करने में भूमिका निभा सकता है। मोतियाबिंद तो हम विटामिन ई और खनिजों के लाभ के लिए ई molar विशिष्ट होना चाहिए कुछ विटामिन जैसे विटामिन ए विटामिन सी विटामिन डी विटामिन ई आंखों के स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है उसी तरह कुछ सूक्ष्म पोषक तत्वों जैसे बीटा कैरोटीन बायोफ्लेवोनॉइड आहार ल्यूटिन ओमेगा 3 फैटी एसिड सेलेनियम जस्ता यह हमारी आंखों के स्वास्थ्य में सुधार और हमारी आंख को स्वस्थ बनाने में भी मदद करता है।



Diznr International

Diznr International is known for International Business and Technology Magazine.

error: Content is protected !!